Take a fresh look at your lifestyle.

एसडीएम ने छापामार कर घर से बरामद किया 45 बोरी सरकारी खाद्यान्न

सरकारी खाद्यान्न की कालाबाजारी की सूचना पर एसडीएम ने मारा छापा

लखीमपुर-खीरी। लाक डाउन में एसडीएम दिग्विजय सिंह ने मंगलवार रात छापामार कर भारी मात्रा में कालाबाजारी के लिए अवैध रुप से स्टाक हो रहे खाद्यान्न को बरामद किया है। प्रशासन को यह सफलता पुलिस के मुखबिर की सूचना पर मिली है। डीएम के निर्देश पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। मितौली में पीडीएस के खाद्यान्न की कालाबाजारी की सूचनाएं काफी दिनों से मिल रहीं थीं। सटीक सूचनाएं न मिल पाने से पुलिस प्रशासन कार्रवाई नहीं कर पा रहा था। एसओ अनिल सैनी ने बताया कि मंगलवार रात वह हमराहियों के साथ लाक डाउन के अनुपालन में गश्त पर थे। इसी दौरान मुखबिर ने सूचना दी कि गंगारामपुर गांव के एक मकान में अवैध रूप से सरकारी राशन का स्टाक किया जा रहा है। सूचना को गम्भीरता से लेते हुए इसकी सूचना एसडीएम दिग्विजय सिंह को दी। एसडीएम ने आपूर्ति निरीक्षक व पुलिस के साथ गंगारामपुर गांव में अली मोहम्मद के घर छापामारा। यहां पर अवैध रूप से सरकारी राशन का स्टाक पाया गया। मौके से 40 बोरी चावल व 5 बोरी गेहूं बरामद किया गया है। एसओ ने बताया कि अली मोहम्मद ने पूछताछ के दौरान यह स्वीकार किया है कि स्टाक किया जा रहा सरकारी राशन राजू व पुत्तू का है जो मेरे यहां रख गए है। जांच में राशन अवैध पाएं जाने पर आपूर्ति निरीक्षक ने एसडीएम दिग्विजय सिंह के माध्यम से रिपोर्ट डीएम को भेजी है। डीएम से संस्तुति मिलने के बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।  पूर्ति निरीक्षक सर्वेश शर्मा की तहरीर पर पुलिस ने अली मोहम्मद निवासी मीरपुर गंगारामपुर मितौली, पुत्तू व राजू पता अज्ञात के खिलाफ आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया है। बरामद खाद्यान्न गोदाम प्रभारी आदीश शर्मा की सुपुर्दगी में दिया गया है। एसओ ने बताया कि शुरुआती जांच में खाद्यान्न विभाग के लोगों की ही संलिप्तता सामने आ रही है। कई कोटेदार व गोदाम के लोग भी जांच के दायरे में है।

Comments are closed.